Image result for supreme court

नई दिल्लीः सुप्रीम ने आज ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) से पूछा कि क्या महिलाओं को ‘निकाहनामा’ के समय ‘तीन तलाक’ को ‘न’ कहने का विकल्प दिया जा सकता है। प्रधान न्यायाधीश जेएस खेहर की अध्यक्षता वाली पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ ने यह भी कहा कि क्या सभी ‘काजियों’ से निकाह के समय इस शर्त को शामिल करने के लिए कहा जा सकता है।

कोर्ट ने सिब्बल से पूछे सवाल
पीठ में न्यायमूर्ति कुरियन जोसेफ, न्यायमूर्ति आरएफ नरीमन, न्यायमूर्ति यूयू ललित और न्यायमूर्ति अब्दुल नजीर भी शामिल हैं। न्यायालय ने पूछा, ‘‘क्या यह संभव है कि मुस्लिम महिलाओं को निकाहनामा के समय ‘तीन तलाक’ को ‘ना’ कहने का विकल्प दे दिया जाए?’’ पीठ ने ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) की ओर से पैरवी कर रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल से जवाब मांगते हुए कहा, ‘‘हमारी तरफ से कुछ भी निष्कर्ष न निकालें।’’

तीन तलाक, बहुविवाह और ‘निकाह हलाला’ को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर पीठ के समक्ष चल रही सुनवाई का आज पांचवां दिन है। पीठ में हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, पारसी सहित विभिन्न धार्मिक समुदायों के सदस्य शामिल हैं। इससे पहले मंगलवार को हुई सुनवाई में ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की ओर से वकील कपिल सिब्बल ने कहा था कि तीन तलाक का पिछले 1400 साल से जारी है। अगर राम का अयोध्या में जन्म होना, आस्था का विषय हो सकता है तो तीन तलाक का मुद्दा क्यों नहीं। कपिल सिब्बल ने कहा कि इस्लाम धर्म ने महिलाओं को काफी पहले ही अधिकार दिये हुए हैं। परिवार और पर्सनल लॉ संविधान के तहत हैं, यह व्यक्तिगत आस्था का विषय है।

 

Image result for mukesh ambani

नई दिल्लीः रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी फोर्ब्स के 'ग्लोबल गेम चेंजर' की लिस्ट में टॉप स्थान हासिल करने में कामयाब हो गए हैं। फोर्ब्स ने बुधवार को 'ग्लोबल गेम चेंजर्स' की दूसरी एनुअल लिस्ट जारी की। लाखों लोगों की जिंदगी बदलने और इंडस्ट्री में बदलाव लाने वाले लोगों को इस सूची में जगह दी जाती है। इसमें मुकेश के अलावा दुनिया के 25 टॉप बिजनेस पर्सन्स के नाम शामिल हैं। 

फोर्ब्स ने मुकेश अंबानी को क्यों चुना 
- मुकेश अंबानी ने रिलांयस जियो मोबाइल नैटवर्क से इंडिया के टैलीकॉम मार्कीट में रिवॉल्यूशन ला दी।
- रिलायंस जियो का कम प्राइज में सबसे तेज इंटरनैट कनैक्टिविटी का दावा किया है। 
- 6 महीने में 10 करोड़ ग्राहकों को जोड़कर जियो ने हलचल पैदा कर दी।
- फोर्ब्स ने मुकेश अंबानी के उस बयान का भी जिक्र किया जिसमें उन्होंने कहा, 'भारत डिजीटल रिवॉल्यूशन में पीछे नहीं रह सकता, जो कुछ भी डिजीटलाइज्ड हो सकता है उसे डिजीटल करना चाहिए।'

भारत पीछे नहीं रह सकताः अंबानी
फोर्ब्स ने अंबानी के हवाले से लिखा, 'जो कुछ भी डिजिटल हो सकता है, वह डिजिटल होने जा रहा है। भारत इसमें पीछे नहीं रह सकता।' फोर्ब्स ने इस लिस्ट के बारे में यह भी कहा है कि जहां कई बिजनेसमैन टर्नओवर बढ़ाने में लगे हैं, वहीं कई शख्स लोगों की जिंदगी को बदल दे रहे हैं। ये लोग भविष्य तय कर रहे हैं, शेयरहोल्डर का, कर्मचारियों का और लोगों का भी।

फोर्ब्स की लिस्ट में और कौन?
जेम्स डॉयसन: फाउंडर, होम अप्लायंसेंस कंपनी, डॉयसन
लैरी फिंक: अमरीकन ग्लोबल इन्वेस्टमेंट मैनेजमेंट कॉर्पोरेशन, ब्लैकरॉक 
मोहम्मद बिन सलमान: डिप्टी क्राउन प्रिंस, सऊदी अरब
ईवान स्पीगल: को-फाउंडर, सोशल मीडिया कंपनी स्नैप
चेंग वाई: फाउंडर, दीदी चुगशिंग, राइड कंपनी, चीन
क्रिस्टो वैज: अफ्रीकन रिटेल टॉयकून

Image result for narendra modiप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी प्रतिष्ठित 'टाइम' पत्रिका की दुनिया के 100 सबसे ज्यादा प्रभावशाली लोगों की वार्षिक सूची के लिए संभावित दावेदारों में शामिल हैं।

 

'टाइम' अगले महीने सूची की घोषणा करेगी. जिसमें प्रमुख कलाकार, नेता, सांसद, वैज्ञानिक और प्रौद्योगिकी तथा उद्योग जगत के नेता शामिल होते हैं। पत्रिका ने पाठकों से संभावित दावेदारों की सूची में शामिल लोगों के लिए वोट देने के लिए कहा है,

हालांकि उसके संपादक इस सूची में शामिल होने वाले लोगों पर अंतिम फैसला लेंगे।

 

मोदी पिछले साल भी 'टाइम' पत्रिका के 100 सर्वाधिक प्रभावशाली लोगों की सूची के संभावित दावेदारों में शामिल हुए थे। वे वर्ष  2015 में दुनिया के 100 सबसे ज्यादा प्रभावशाली लोगों में से एक थे और अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने पत्रिका में उनके लिए प्रोफाइल लिखा था।  

गत वर्ष तत्कालीन आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन, टेनिस स्टार सानिया मिर्जा, अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा, गूगल के भारतीय मूल के सीईओ सुंदर पिचई और भारतीय ई-वाणिज्यिक कंपनी फ्लिपकार्ट के संस्थापक बिन्नी बंसल और सचिन बंसल 'टाइम' की 100 सबसे ज्यादा प्रभावशाली लोगों की सूची में शामिल थे।  

Image result for p chidambaram

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिंदबरम ने कहा है कि कांग्रेस का संगठनात्मक ढांचा बीजेपी-आरएसएस के आगे कमजोर नजर आता है। तृणमूल कांग्रेस और एआईएडीएमके जैसी क्षेत्रीय पार्टियों के आगे भी कांग्रेस का कोई मेल नहीं।

 

उन्होंने कहा कि 'बीजेपी-आरएसएस एक ऐसे संगठन के रुप में उभरा है जो वोट बटोरने में सक्षम है, लेकिन अगर यह संगठन बंगाल में टीएमसी और तमिलनाडु में एआईएडीएमके के खिलाफ वोट बटोरने की कोशिश करेगा तो उसे निराशा हाथ लगेगी।'

Image result for yogi adityanath

शपथ लेने के बाद यूपी के नए मुख्यमंत्री के रूप में आद‌ित्यनाथ ने कार्यभार संभाला और प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा क‌ि कानून व्यवस्था के साथ कोई ख‌िलवाड़ नहीं होने ‌द‌िया जाएगा।

 

उन्होंने कहा, हम बगैर क‌िसी भेदभाव के समाज के सभी वर्गों के ल‌िए काम करेंगे। इतना ही नहीं उन्होंने अपने मंत्र‌ियों को भी ह‌िदायत दी की अनाप-शनाप और जनभावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले बयान न दें। सीएम ने अपने मंत्र‌ियों को 15 दिन में संपत्ति की घोषणा करने का भी न‌िर्देश द‌िया।

 

सीएम ने कहा, समाज के गरीब, दल‌ित और प‌िछड़े वर्गों के कल्याण के ल‌िए व‌िशेष काम क‌िए जाएंगे। उन्होंने कहा, मह‌िलाओं की सुरक्षा, सशक्त‌िकरण और उनके सम्मान के ल‌िए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

 

उन्होंने प‌िछली सरकारों पर हमला बोला और कहा, जो खाम‌ियाजा हुआ है उसकी क्षत‌िपूर्त‌ि की जाएगी। उन्होंने कहा, यूपी में पर‌िवर्तन लाने क‌े ल‌िए जनादेश म‌िला है।

 

मुख्यमंत्री ने कहा, जनकल्याण पत्र के सभी संकल्पों को पूरा क‌िया जाएगा। योगी ने कहा, आज की मुलाकात स‌िर्फ धन्यवाद देने के ल‌िए है। हम पर व‌िश्वास कीज‌िए और हमें काम करने दीज‌िए।

 

प्रेस कांफ्रेंस के लिए तैयार मंच को भगवा लुक देकर तैयार किया गया था। इसके पहले लखनऊ के कांशीराम स्मृति उपवन में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों की मौजूदगी में सीएम पद की शपथ ली।

 

उनके साथ ही 46 मंत्रियों ने भी शपथ ली। जिसमें कैबिनेट मंत्री के रूप में 22, राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार के रूप में नौ व राज्यमंत्री के रूप में 13 विधायकों ने शपथ ली।